मंगलवार, 29 मई 2012

मध्य प्रदेश की बाल सहित्य लेखिका : गिरिजा कुलश्रेष्ठ


 गिरिजा कुलश्रेष्ठ
जन्म—1 जनवरी 60 जिला मुरैना
शिक्षा –एम.ए.( हिन्दी)
कार्य—शासकीय उ मा.वि. में व्याख्याता ।
सृजन—-कहानी ,लघुकथा ,कविता ,गीत ,बाल-नाटक ,नव-साक्षर लेखन आदि विभिन्न विधाओं में सृजन । लगभग 35 बाल कहानियाँ व लगभग 70 बाल-कविताएं जिनमें अधिकांशतः बाल-कहानियाँ व बाल-कविताएं चकमक ,झरोखा ,पाठकमंच ,पलाश ,बालवाटिका आदि पत्रिकाओं में प्रकाशित । चि.बु.ट्स्ट से दो बाल कहानियाँ पुरस्कृत । कुछ कहानियाँ रूम टू रीड ,ने बु ट्र. तथा राज्य संसाधन केन्द्र भोपाल से बुक-लेट के रूप में प्रकाशित । 

1 टिप्पणी:

  1. नागेश जी धन्यवाद । जाने कैसे यहाँ --अपनी खिडकी से ( संजीव प्रकाशन दिल्ली से सद्य प्रकाशित बाल-कथा संग्रह ) मुझे धूप चाहिये ( एकलव्य भोपाल से शीघ्र ही निकलने वाला बाल कथा संग्रह) तथा ध्रुव-गाथा ( जे.एम.डी प्रकाशन दिल्ली से शीघ्र ही आने वाला खण्ड-काव्य) का उल्लेख छूट गया है । मुझे विश्वास है कि यहाँ दी गई जानकारी पुस्तकों को अवश्य ही सुधी पाठकों तक पहुँचाएगी ।

    उत्तर देंहटाएं