गुरुवार, 26 सितंबर 2019

उत्तर प्रदेश के बाल साहित्य लेखक : पवन कुमार वर्मा


पवन कुमार वर्मा
जन्मतिथि एवं स्थान : ०१ जुलाई १९७१, वाराणसी 
प्रकाशित पुस्तकें :  जंगल की एकता,अनोखी दोस्ती, सपनों की दुनियां, हम सब साथ हैं, मिट्ठू चाचा { सभी बाल-कथा   संग्रह }
पुरस्कार/ सम्मान :  नागरी बाल साहित्य संसथान, बलिया, भाऊ राव देवरस न्यास आदि से सम्मान 
पता / मोबाइल नं. :  अभिनन्दन, शीतल नगर कालोनी, { जीवन-दीप स्कूल के सामने }, भोजूबीर-हस्तकला संकूल मार्ग, जिला - शिवपुर, वाराणसी {उ०प्र०}, पिन – २२१००३ 
मोबाइल – 9140495225  
ई मेल : write2pkv@gmail.com

सोमवार, 17 जून 2019

दिल्ली की बाल साहित्य लेखिका : डा. क्षमा शर्मा

डा. क्षमा शर्मा

जन्मः 1 अक्तूबर,1955
जन्म स्थान आगरा, उत्तर प्रदेश

शिक्षाःएम.ए. (हिन्दी प्रथम श्रेणी) पत्रकारिता में पी जी डिप्लोमा, साहित्य और पत्रकारिता में पी.एच. डी. ।
कहानी संग्रहः
1. काला कानून, देवदार प्रकाशन,नई दिल्ली
2. कस्बे की लड़की, राजधानी प्रकाशन,नई दिल्ली
3. घर-घर तथा अन्य कहानियां, सचिन प्रकाशन,नई दिल्ली
4. थैंक्यू सद्दाम हुसैन, किताबघर,नई दिल्ली 
5. लव स्टोरीज, आत्माराम एंड संस, दिल्ली
 6. इक्कीसवीं सदी का लड़का, सामयिक प्रकाशन,नई दिल्ली
7. नेम प्लेट, राजकमल प्रकाशन, दिल्ली, दो संस्करण प्रकाशित-हिन्दी अकादमी द्वारा कृति सम्मान  पेपरबैक संस्करण भी उपलब्ध
8. रास्ता छोड़ो डार्लिंग,  वाणी प्रकाशन, दिल्ली
9. लड़की जो देखती पलटकर, वाणी प्रकाशन, दिल्ली
10. बात अभी खत्म नहीं हुई, वाणी प्रकाशन, दिल्ली । मुक्तांगन, जागरण व्दारा पुस्तक पर विशेष कार्यक्रम। जागरण की बेस्ट सेलर सूची में भी शामिल।

उपन्यासः
1. दूसरा पाठ ,किताबघर, दिल्ली-चार संस्करण प्रकाशित, हिन्दी अकादमी द्वारा पुरस्कृत
2. परछाईं अन्नपूर्णा, राजसूर्य प्रकाशन,नई दिल्ली - दो संस्करण प्रकाशित 
3. शस्य का पता,   प्रवीण प्रकाशन,नई दिल्ली
4. मोबाइल, राजकमल प्रकाशन, दिल्ली
स्त्री विषयकः
1. स्त्री का समय मेधा बुक्स,नई दिल्ली- चार संस्करण प्रकाशित-सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की ओर से भारतेंदु हरिश्चंद्र पुरस्कार के अंतर्गत प्रथम लेखिका पुरस्कार
2. स्त्रीत्ववादी विमर्श समाज और साहित्य, राजकमल प्रकाशन, दिल्ली । दो संस्करण प्रकाशित ,पेपरबैक संस्करण भी उपलब्ध
3. औरतें और आवाजें ,आलेख प्रकाशन,नई दिल्ली
4. बंद गलियों के विरुद्ध-‘महिला पत्रकारिता की यात्रा’‘इंडियन विमेन प्रेस कोर’ के लिए मृणाल पांडेय   के साथ सह सम्पादन । राजकमल    प्रकाशन, नई दिल्ली  
5. बाजार ने पहनाया बारबी को बुर्का,  पेंग्विन, नई दिल्ली
6.समकालीन स्त्री विमर्श-सामयिक प्रकाशन
पत्रकारिता विषयकः
व्यावसायिक पत्रकारिता का कथा-साहित्य के विकास में योगदान ।
नटराज प्रकाशन, नई दिल्ली
प्रकाशित बाल साहित्य
बाल उपन्यास-
1. शिब्बू पहलवान, राजकमल प्रकाशन, पांच संस्करण प्रकाशित, नेशनल बुक ट्रस्ट की ओर से ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड योजना में चुनी गई पुस्तक।
2. पन्ना धाय, प्रकाशन विभाग,नई दिल्ली से प्रकाशित पुस्तक, चार संस्करण प्रकाशित ।
3. मिट्ठू का घर , प्रवीण प्रकाशन,नई दिल्ली।
4. राजा बदल गया, सन्मार्ग प्रकाशन, नई दिल्ली।
5. पप्पू चला ढूंढ़ने शेर- मेधा बुक्स,नई दिल्ली, तीन संस्करण प्रकाशित, हिंदी अकादमी द्वारा पुरस्कृत ।
6. पीलू- सन्मार्ग प्रकाशन, नई दिल्ली।
7. होमवर्क  किताबघर,नई दिल्ली ।
8. इंजन चले साथ-साथ, सन्मार्ग प्रकाशन,नई दिल्ली।
9. मानू और बादल, किताबघर, नई दिल्ली।
10.गोपू का कछुआ, आलेख प्रकाशन,नई दिल्ली।
11.घर या चिड़ियाघर,  एमपरसंड प्रकाशन,नई दिल्ली
12.नाहर सिंह के कारनामे , एमपरसंड प्रकाशन,नई दिल्ली
13.एक रात जंगल में नेशनल बुक ट्रस्ट,नई दिल्ली , नौ संस्करण प्रकाशित पंजाबी और उड़िया  में भी अनूदित।
14. भाईसाहब-  एन सी ई आर  टी द्वारा दो संस्करण प्रकाशित। । उर्दू  में भी अनुवाद ।
15.डायनोसोर की पीठ पर- प्रकाशन विभाग, नई दिल्ली द्वारा प्रकाशित।
16. बोलने वाली घड़ी, नेशनल बुक ट्रस्ट,नई दिल्ली  द्वारा तीन संस्करण और हार्ड बाउंड में भी प्रकाशित।
17. सरसों के फूल-राजस्थान सरकार के लिए वहां के अध्यापकों द्वारा लिखी कहानियों का संचयन 
बाल कहानी संग्रह-
1.  पानी-पानी , सन्मार्ग प्रकाशन,नई दिल्ली।
2. परी खरीदनी थी,  देवदार प्रकाशन,नई दिल्ली।
3. तितली और हवा, सन्मार्ग प्रकाशन,नई दिल्ली।
4. इक्यावन बाल कहानियां, आत्माराम एंड संस, दिल्ली।
5. चालाकी की सजा, सन्मार्ग प्रकाशन,नई दिल्ली।
6. भाई की सीख, प्रवीण प्रकाशन,नई दिल्ली।
7. भेड़िए के जूते,  सन्मार्ग प्रकाशन,नई दिल्ली।
8. धरती है सबकी, सन्मार्ग प्रकाशन,नई दिल्ली।
9. फिर से गाया बुलबुल ने, आलेख प्रकाशन,नई दिल्ली। 
10. दोना भर जलेबी, सन्मार्ग प्रकाशन,नई दिल्ली।
11. लालू का मोबाइल, प्रकाशन विभाग, ,नई दिल्ली।  
12. बुलबुल और मुन्नू, नेशनल बुक ट्रस्ट, नई दिल्ली। चार संस्करण प्रकाशित। पंजाबी और उड़िया में भी अनूदित।
13.चुनी हुई कहानियां,नेशनल बुक ट्रस्ट, नई दिल्ली।दो संस्करण प्रकाशित।
14.मेरी फुटबाल-नेशनल बुक ट्रस्ट, नई दिल्ली। दो संस्करण प्रकाशित.


           -3-
बच्चों के लिए बीस वर्ल्ड क्लासिक्स का रूपांतरण ।
लेखिका के कथा-साहित्य  पर अम्बेडकर विश्वविद्यालय,आगरा से  तीन र बाल साहित्य पर डाक्टरेट-मीना मेहरोत्रा,शालिनी शर्मा  तथा नीतू , औरंगाबाद से लता गुजराती, स्वाति, और वसुधा को डाक्टरेट।  तिरुअनंतपुरम से अनखा। पंजाब युनिवर्सिटी से दीपशिखा।
पंजाब विश्वविद्यालय,राजस्थान विश्वविद्यालय, केरल ,आंध्रप्रदेश, महाराष्ट्र तथा भोपाल विश्वविद्यालय, में भी  दस छात्राएं शोधरत
लेखिका के साहित्य पर विभिन्न विश्वविद्यालयों में बीस   छात्राओं  द्वारा एम. फिल. ।
बाल साहित्य पर औरंगाबाद और भागलपुर, बिहार विश्वविद्यालय में दो छात्रां  शोधरत ।
पंजाबी, उर्दू,अंग्रेजी,तेलुगु, मलयालम, तमिल , उड़िया, अंगरेजी आदि में रचनाओं का अनुवाद
पुरस्कार और सम्मान 
सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का भारतेंदु हरिश्चंद्र सम्मान
हिन्दी अकादमी,दिल्ली द्वारा  तीन बार पुरस्कृत; । नेम प्लेट कहानी संग्रह पर कृति पुरस्कार।
बाल कल्याण संस्थान,कानपुर का बाल साहित्य पुरस्कार . 
इंडो रूसी क्लब नई दिल्ली तथा सोनिया ट्रस्ट नई दिल्ली द्वारा सम्मानित। 
देश की सभी प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं में बच्चों,महिलाओं और पर्यावरण से सम्बन्धित सैंकड़ों लेख प्रकाशित .
सी.आई.टी.टी. के लिए बहुत-से कैसेटों और फिल्मों का लेखन
 टेली फिल्म ‘गांव की बेटी’ दूरदर्शन से प्रसारित; 
1976 से आकाशवाणी के लिए कहानियों,नाटकों,वार्ताओं,बाल कहानियों आदि का नियमित लेखन। 
महिला संगठनों और पत्रकारों की यूनियन में सक्रिय भागीदारी ।
दूरदर्शन तथा अन्य चैनलों के सैकड़ों कार्यक्रमों में भागीदारी।
स्त्री का समय और नेमप्लेट कहानी संग्रह पर दूरदर्शन द्वारा पत्रिका कार्यक्रम में विस्तृत चर्चा।
रास्ता छोड़ो डार्लिंग कहानी पर दूरदर्शन के सी.पी.सी.केंद्र द्वारा फिल्म का निर्माण ।
 जयपुर लिटरेरी फेस्टीवल 2013  में चार कार्यक्रम।और दूरदर्शन द्वारा बनाए कार्यक्रम किताबनामा में लेखिका के लेखन पर विस्तृत चर्चा।
रायपुर साहित्य महोत्सव 2014 में बाल साहित्य पर बीज भाषण.
मीडिया एडवोकेसी ग्रुप के लिए कई बार मीडिया में स्त्री और बच्चों सम्बंधी खबरों का अध्ययन ।
अंतर्राष्ट्रीय एन.जी.ओ.पापूलेशन कम्युनिकेशंस इंटरनेशनल, न्यूयार्क और प्रसार भारती आकाशवाणी महानिदेशालय की ओर से बनाए जाने वाले धारावाहिक ‘तरु’ की लेखिका ।
‘लेखिका संघ’ की आजीवन मानद सदस्य
हरिकृष्ण देवसरे पुरस्कार की ज्यूरी में 2013-2014,2016-2017-18-19
आकाशवाणी, दूरदर्शन,एन डी.टी.वी. जी टी वी, सहारा समय, जनमत,लोकसभा चैनल, राज्यसभा चैनल, एस1,सिटी, पी 7,  ,बी.बी.सी.वर्ल्ड सर्विस, वायस आफ अमेरिका,एस.बी.एस.रेडियो आस्ट्रेलिया आदि पर अनेक बार साक्षात्कार प्रसारित ।
नेशनल बुक ट्रस्ट, दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी, शाइन, बचपन बचाओ, मारुति, जी एम आर, युनिसैफ आदि संस्थाओं की ओर से भारत भर में आयोजित बच्चों की बहुत सी कार्यशालाओं में भागीदारी ।
 देश भर में 150 से अधिक स्टोरी टैलिंग सैशंस।
दो बार दिल्ली यूनियन आफ जर्नलिस्ट की कार्यकारिणी में ।
नेशनल बुक ट्रस्ट की पुस्तक चयन समिति में  2004-2005
प्रसार भारती के बाल धारावाहिक चयन समिति में 2004-2005-2006-2007, 2017
के.के.बिरला फाउंडेशन की बिहारी पुरस्कार समिति में 2004-2005-2006-2007।
 दो बार इंडियन प्रेस कोर की  समिति में।
दूरदर्शन के राष्ट्रीय पुरस्कार की ज्यूरी में 2001-2002-03-04-2005-2007-2008---2018, 2019
 दो बार सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के भारतेंदु हरिश्चंद्र पुरस्कार समिति में 
आकाशवाणी की राष्ट्रीय पुरस्कार समिति में  2007-2008-2009
चिल्ड्रन बुक ट्रस्ट, नई दिल्ली,बाल भारती कहानी प्रतियोगिता, प्रकाशन विभाग,  राजस्थान पत्रिका कहानी प्रतियोगिता,   में निर्णायक , हिन्दी अकादमी की बाल रचनाओं की निर्णायक। 
आकाशवाणी की वार्षिक पुरस्कार समिति की सदस्य रहीं।
आकाशवाणी की स्क्रिप्ट कमेटी की सदस्य।
दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी की बोर्ड मेम्बर 2007-2008---09-10-11
जनवरी 2012   में जयपुर लिटरेरी फेस्ट के तीन सेशंस में भाषण । बच्चों के लिए एक वर्कशॉप भी आयोजित ।
टी.वी.धारावाहिकों (2007-2008) की चयन समिति में।
हरियाणा साहित्य अकादमी की ज्यूरी में 2016
आजमगढ़ की एन बी टी वर्कशाप में मुख्य अतिथि। इंदौर के पुस्तक मेले की विशिष्ट अतिथि।
पानीपत साहित्य महोत्सव 2017 में मुख्य अतिथि।
बुलंदशहर साहित्य महोत्सव 2018 की मुख्य अतिथि
हिन्दी अकादमी, दिल्ली की सदस्य 2018।
आजतक साहित्य महोत्सव के बाल साहित्य कार्यक्रम में भागीदारी।
न्यू सरस्वती बुक्स की श्रंखला उन्मेष व्दारा प्रकाशित कक्षा 1 से 8 तक की शैक्षिक पुस्तकों की परामर्शदाता। 
 हिन्दुस्तान टाइम्स की बाल पत्रिका नंदन से  37  वर्षों तक सम्बद्ध रहीं  । कार्यकारी सम्पादक के पद से अवकाश प्राप्त ।
2014-2016 तक सांस्कृतिक मंत्रालय की   सीनियर फैलो  के रूप में-
 बच्चों की पत्रिकाओं में छपने वाली लोककथाओं का अध्ययन   ।
जागरण व्दारा वाणी प्रकाशन के सहयोग से छपी कामिक बुक संस्कारशाला की लेखिका। 
हिन्दुस्तान, दैनिक जागरण, नवभारत टाइम्स, अमर उजाला, राजस्थान पत्रिका, ट्रिब्यून, प्रभात खबर, हरिभूमि, नवोदय टाइम्स, नई दुनिया, जनसत्ता ,नवभारत रायपुर, पुस्तक वार्ता, हंस, पाखी,नया ज्ञानोदय, गम्भीर सामाचर, चछावच, पाखी, हंस आदि पत्र-पत्रिकाओं में नियमित लेखन।
पताः17-बी/1, हिन्दुस्तान टाइम्स अपार्टमेंटस,मयूर विहार,फेज-1,दिल्ली-91
 मोबाइल-09818258822

उत्तर प्रदेश की बाल साहित्य लेखिका : मानवती आर्या

 मानवती आर्या

 जन्म तिथि  : 30 अक्टूबर 1920

 जन्म स्थान  : मैकटीला नगर, म्यामा, बर्मा

 प्रकाशित साहित्य : दादी अम्मा मुझे बताओ, दादी अम्मा की सीख, देश का भविष्य, बात चीत की कला, भारत भक्त विदेशी महिलाएं, प्रतिष्ठा आदि पुस्तकें बहुचर्चित। विविध पत्र-पत्रिकाओं में बालसाहित्य की  रचनाएँ प्रकाशित। समन्वय नाम से बच्चों के नीतिपरक दोहों का सृजन-प्रकाशन।
पुरस्कार : भारतीय बाल कल्याण संस्थान, उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान से सुभद्रा कुमारी चौहान बाल साहित्य सम्मान आदि

साहित्यिक उपलब्धियाँ : पहली कविता 1936 में शांति मासिक, लाहौर में छपी। राष्ट्रीय स्तर की बालसाहित्य संगोष्ठियों एवं समारोहों में  सहभागिता। 1984 से 1994 तक मासिक पत्रिका ‘बाल दर्शन का संपादन-प्रकाशन कर बाल साहित्य को लोकप्रिय बनाने और बाल हित चेतना की दिशा में उल्लेखनीय कार्य। बाल सेवक बिरादरी संस्था के द्वारा भी बच्चों के लिए विशेष रूप से कार्य किया। भारत आने से पूर्व बर्मा में दयानन्द प्राइमरी स्कूल और रंगून विश्व भारती अकादमी, तत्पश्चात 1954 से 1983 तक कानपुर में  हिंदी अध्यापिका के रूप में बच्चों को साहित्यिक संस्कार देने में आपकी विशेष लोकप्रियता रहीं। 
अन्य : आजाद हिंद फौज की रानी झाँसी रेजिमेंट में लेफ्टिनेंट रहीं। 

सम्पर्क सूत्र : 110 MIG, पत्रकारपुरम, कानपुर -208002 (उत्तर प्रदेश)

रविवार, 16 अप्रैल 2017

उत्तर प्रदेश की बाल साहित्य लेखक : सृष्टि पांडेय


सृष्टि पांडेय
 शाहजहांपुर (उ.प्र.) के खुटार कस्बे में जन्म
माता - श्रीमती समीक्षा पांडेय
पिता - डॉ. नागेश पांडेय

प्रकाशित पुस्तक : चुनमुन के गीत
पत्र-पत्रिकाओं में रचनाओं का अनवरत प्रकाशन।
'बाल प्रभा' (वार्षिक बाल पत्रिका) में बाल सम्पादक।
चित्रांकन में रूचि। बाल पत्रिकाओं तथा बाल पुस्तकों में अनेक चित्र प्रकाशित।
संप्रति : जवाहर नवोदय विद्यालय में अध्ययनरत।
संपर्क सूत्र :
द्वारा डॉ. नागेश पांडेय 'संजय'
सुभाष बाल विद्या मंदिर के पीछे, 
सुभाष नगर,
शाहजहाँपुर- 242001 (उ.प्र.)
[भारत]
दूरभाष : 094516 45033



शुक्रवार, 25 जुलाई 2014

दिल्ली के बाल चित्रकथा सर्जक

प्राण 

चाचा चौधरी,  बिल्लू और पिंकी जैसी लोकप्रिय चित्र कथाओं के सर्जक 

निवास दिल्ली में 

सोमवार, 21 जुलाई 2014

दिल्ली की बाल साहित्य लेखिका : सुनीता तिवारी

सुनीता तिवारी
15 अक्तूबर, 1965

पिछले 28 वर्षों से अधिक समय से बड़ों व बच्चों के लिए नियमित पत्रकारिता।
16 वर्षों से लेकर अब तक 'नंदन' पत्रिका से जुड़ी, अब समाचार-पत्र व पत्रिका के लिए मुख्य संवाददाता।
बच्चों के लिए बहुत काम किया, बहुत छपा।
 'नंदन' के पाठकों के लिए जानकारियां बटोरने व संदेश लेने के लिए बड़ी-बड़ी हस्तियों से नियमित संपर्क।
टेलीविजन व फिल्मी बाल कलाकारों व बच्चों से जुड़े विशेषज्ञों से साक्षात्कार।
दिल्ली के संग्रहालयों की विस्तृत जानकारियां समय-समय पर बच्चों तक पहुंचाईं।

संपर्क : 13/80 ए विक्रम विहार,
लाजपत नगर- 4
नई दिल्ली – 110024

ई-मेल – tewari_sunita@yahoo.com
मोबाइल- 0-9810777097